ताज़ा खबरे
Home / न्यूज़ पेपर / पुणे पुलिस बल में तबादलों के लिए विशेष कम्प्यूटर सिस्टम

पुणे पुलिस बल में तबादलों के लिए विशेष कम्प्यूटर सिस्टम

पुणे- थाने में अपना कार्यकाल पूरा करने के बाद प्रशासन को पुलिस कर्मियों से तबादला के लिए लिखित आवेदन देना पड़ा। वरिष्ठों द्वारा स्थानांतरण आवेदन पर निर्णय होने के बाद नियुक्ति प्रक्रिया पूरी की जा रही थी। पुलिस के लिए तबादले के लिए आवेदन करने का समय खत्म हो रहा था। पुणे शहर पुलिस बल में तबादलों के लिए अब जनरल ट्रांसफर मैनेजमेंट सिस्टम (जीटीपीएमएस) बनाया गया है। कंप्यूटराइज्ड सिस्टम से पुलिस ट्रांसफर की प्रक्रिया आसान और ज्यादा पारदर्शी हो जाएगी। पुलिस बल में अपना कार्यकाल पूरा करने के बाद उनका पुलिस स्टेशन और अपराध शाखा से तबादला कर दिया जाता है।

 

कुछ पुलिस स्थानांतरण अनुरोध पर किए जाते हैं। अप-टू-डेट तकनीक का उपयोग करके स्थानान्तरण संसाधित किया जाना चाहिए। पुलिस कमिश्नर अमिताभ गुप्ता ने इसके लिए कंप्यूटर सिस्टम विकसित करने का सुझाव दिया था। इसी क्रम में अपर पुलिस आयुक्त डॉ.जलिन्दर सुपेकर,पुलिस उपायुक्त स्वप्ना गोरे,पुलिस उपायुक्त मितेश घट्टे ने एक आईटी कंपनी के सहयोग से कंप्यूटर सिस्टम विकसित किया। जीटीपीएमएस सिस्टम शहर के विभिन्न पुलिस सर्किलों से नियमित वार्षिक स्थानान्तरण के लिए पात्र पुलिस कर्मियों की जानकारी एकत्र करता है। इसमें ट्रांसफर के लिए पात्र पुलिस को बताया गया है कि वे पहले किस थाने में काम कर चुके हैं। उसे पुलिस द्वारा दिए गए पांच विकल्पों में से किसी एक पर ट्रांसफर कर दिया जाएगा।

 

अनुरोध हस्तांतरण आवेदन के कारणों का सत्यापन किया जाएगा। इस वर्ष 1300 पूर्ण पुलिस अधिकारियों का तबादला किया जाएगा। सात सौ पचास पुलिसकर्मियों ने तबादले के लिए आवेदन किया है। ट्रांसफर की प्रक्रिया कंप्यूटर सिस्टम के जरिए की जाएगी। तबादलों को रैंक और कार्य पद्धति के अनुसार दर्ज किया जाएगा। पुलिस कर्मियों के तबादले में पारदर्शिता लाने के लिए जीटीपीएमएस कंप्यूटर सिस्टम का इस्तेमाल किया जाएगा। कुशल जनशक्ति की संख्या को ध्यान में रखते हुए पुलिस कर्मियों की संख्या को स्थानांतरित किया जाएगा। कम्प्यूटरीकृत व्यवस्था से पुलिस स्थानान्तरण की प्रक्रिया सुगम एवं पारदर्शी हो जाएगी।

Check Also

पुणे में सीबीआई ने मणिपुर हत्याकांड के मास्टरमाइंड को दबोचा

पुणे- मणिपुर में पिछले कुछ महीनों से हिंसा जारी है। दो बच्चों का अपहरण कर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *