ताज़ा खबरे
Home / ताज़ा खबरे / महाराष्ट्र में 24 जनवरी से 12 वीं तक स्कूल शुरु,उद्धव ठाकरे का निर्णय

महाराष्ट्र में 24 जनवरी से 12 वीं तक स्कूल शुरु,उद्धव ठाकरे का निर्णय

मुंबई-राज्य में कोरोना की गंभीरता के नियंत्रण में आने के बाद राज्य सरकार ने सोमवार से पिछले 20 दिनों से बंद पड़े स्कूलों को फिर से खोलने का फैसला किया है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। यह जानकारी राज्य की स्कूल शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़ ने मीडिया से बातचीत में दी है। वर्षा गायकवाड़ ने बताया कि स्थानीय परिस्थितियों के मुताबिक बालवाडी से लेकर बारहवीं तक की पूरी पढ़ाई शुरू हो जाएगी। यह भी स्पष्ट किया गया है कि निर्णय लेने का अधिकार स्थानीय प्रशासन के पास होगी। उन्होंने कहा कि माता-पिता की सहमति आवश्यक है।

 

विशेषज्ञों से चर्चा के बाद जहां मरीजों की संख्या कम हुई वहां स्थानीय स्तर पर निर्णय लेने का मुद्दा उठाया गया। उसके बाद वर्षा गायकवाड़ ने ऐसा प्रस्ताव मुख्यमंत्री को सौंपा था। अगले सोमवार से स्कूल शुरू करने का प्रस्ताव है। वर्षा गायकवाड़ ने कहा कि इस प्रस्ताव को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मंजूरी दे दी है। वर्षा गायकवाड़ के मुताबिक,स्कूल 24 जनवरी से शुरू हो जाएंगे।जहां मरीजों की संख्या कम होगी वहां स्कूल शुरू होंगे। बालवाडी से लेकर बारहवीं तक की सभी कक्षाएं शुरू की जाएंगी और स्कूल शुरू करने का अधिकार स्थानीय प्रशासन को सौंप दिया गया है। हमारी भूमिका यह सुनिश्चित करना है कि कोई भी छात्र शिक्षा से वंचित न रहे।

 

बच्चों का स्वास्थ्य और बच्चों की सुरक्षा हमारी प्राथमिकता है। इसलिए स्थानीय स्थिति की बार-बार समीक्षा की जानी चाहिए और उसी के अनुसार निर्णय लिया जाना चाहिए ऐसा वर्षा गायकवाड़ ने कहा। उन्होंने कहा कि स्थानीय प्रशासन को निर्णय लेते समय स्थिति को ध्यान में रखना चाहिए,साथ ही कहा कि एक निर्णय लिया जाना चाहिए और दूसरा नहीं लिया जाना चाहिए। कई स्थानीय सरकारी अधिकारियों के साथ चर्चा के बाद निर्णय की घोषणा की गई है। स्थानीय स्तर के सीईओ,कलेक्टर या कमिश्नर को ऐसे स्कूल शुरू करने का अधिकार है जहां मरीजों की संख्या कम है। इस संबंध में मुख्यमंत्री को प्रस्ताव भेजा गया था। कैबिनेट की बैठक के बाद इसे मंजूरी प्रदान की गई।

वर्षा गायकवाड़ ने कहा कि हम 15 से 18 वर्ष की आयु के बच्चों को स्कूल जाकर टीकाकरण की संभावना देख रहे हैं,उन्होंने कहा कि शिक्षकों और गैर-शिक्षण कर्मचारियों को दो खुराक लेनी चाहिए।

 

पढ़ें नए नियम

स्थानीय प्रशासन के पास स्कूल शुरू करने का अधिकार

शिक्षकों और नॉन टीचिंग स्टाफ को दो वैक्सीन अनिवार्य

स्कूल में टीकाकरण का सत्यापन

24 से पहली से 12वीं तक स्कूल शुरू करने का फैसला

उस स्थिति का आकलन करें जब स्थानीय प्रशासन कोई निर्णय लेता है

माता पिता की सहमति पत्र अनिवार्य

Check Also

मानसून में देरी,आयुक्त ने दिए पानी कटौति के संकेत

पिंपरी- पिंपरी चिंचवड शहर के नागरिकों को पहले से ही एक दिन के बाद पानी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *